90 के दशक में लाखों दिलों पर राज करने वाले हिंदी फिल्म जगत के मशहूर अभिनेता धर्मेंद्र ने अपने फिल्मी कैरियर में कई एक से बढ़कर एक बेहतरीन फिल्मों में काम किया है और अपनी काबिलियत को बखूबी साबित करते आए हैं| धर्मेंद्र ने अपने फिल्मी कैरियर में कई हिट. सुपरहिट और ब्लॉकबस्टर फिल्मों में काम किया है| धर्मेंद्र की बात करें तो उनका नाम बॉलीवुड के कुछ ऐसे अभिनेताओं में भी शामिल है, जिन्हें हिंदी फिल्म जगत की लगभग सभी सफल अभिनेत्रियों के साथ फिल्मों में देखा जा चुका है|

असल जिंदगी की बात करें तो धर्मेंद्र काफी साफ दिल और सच्चे स्वभाव वाले इंसान हैं जो अपने स्वभाव की वजह से भी अपने चाहने वालों के दिलों पर राज करते हैं| इसके अलावा धर्मेंद्र खुद के साथ-साथ अन्य लोगों की भावनाओं का भी काफी ख्याल रखते हैं और अपनी आज की इस पोस्ट में हम धर्मेंद्र से जुड़े एक ऐसे ही किससे के बारे में बताने जा रहे हैं, जिसमें उन्होंने अपने एक वादे की खातिर हमेशा के लिए शराब पीना छोड़ दिया था|

धर्मेंद्र ने एक रियलिटी शो के दौरान खुद ही इस किस्से का जिक्र किया था जिसमें उनके साथ गुजरे वक्त की मशहूर एक्ट्रेस आशा पारेख भी शामिल हुई थी| इस रियलिटी शो के दौरान धर्मेंद्र ने इस बात का खुलासा किया था की आशा पारेख अपने जमाने की एक बेहद ही सफल अभिनेत्री हुआ करती थी और उनकी लगभग सभी फिल्में सुपरहिट ही होती थी, जिस वजह से धर्मेंद्र उन्हें जुबली पारेख नाम से बुलाते थे| आगे उन्होंने बताया कि आशा पारेख के साथ साल 1966 में आई फिल्म आए दिन बहार के मैं काम किया था जिसकी शूटिंग दार्जिलिंग में हुई थी| ऐसे में शूटिंग के दिनों में धर्मेंद्र पैकअप के बाद सभी के साथ मिलकर देर रात तक पार्टी करते थे|

धर्मेन्द्र नें बताया था कि शूटिंग के बाद पार्टी के दौरान वो काफी ज्यादा ड्रिंक कर लिया करते थे जिसके बाद सुबह शूटिंग के दौरान धर्मेन्द्र शराब की महक को छिपाने के लिए प्याज खाकर जाते थे| लेकिन आशा पारेख नें एक बार शूट के दौरान उनसे कहा था कि प्याज की महक उन्हें पसंद नही हैं| जिसके बाद धर्मेन्द्र नें उन्हें बताया के ऐसा वो शराब की महक को छिपाने के लिए करते हैं| ऐसे में इस बात को जानने के बाद धर्मेन्द्र को आशा पारेख नें ड्रिंक न करने के लिए कहा जिसके बाद उन्होंने ड्रिंक करने धीरे धीरे कम कर दिया और फिर उन्होंने यह आदत छोड़ दी| और इसी के साथ इन दोनों के बीच अच्छी दोस्ती भी हो गयी|

वही अगर आशा पारेख की बात करें तो इंटरव्यू के दौरान उन्होंने बताया था धर्मेंद्र हमेशा से अपने वादे के पक्के थे और उन्होंने कड़ाके की ठंड में भी अपने वादे को निभाया था| कड़ाके की ठंड में भी धर्मेंद्र ने अपने वादे की खातिर शराब को हाथ नहीं लगाया था| आगे उन्होंने यह भी बताया था फिल्म के एक गाने की वजह से धर्मेंद्र को बार-बार शूटिंग के लिए पानी में जाना पड़ता था|लेकिन क्योंकि पानी काफी ठंडा होता था इस वजह से उनका बदन नीला पड़ जाता था, और ऐसे में जब वह शूटिंग के बाद सीन कंप्लीट करके बाहर आते थे तो उन्हें ब्रांडी ऑफर की जाती थी|