12 दिसंबर, 2021 की तारिख हमारे भारत के लिए एक गौरवशाली दिन रहा जब हमारे भारत के पंजाब की रहने वाली हरनाज़ संधू नें मिस यूनिवर्स 2021 का खिताब अपने नाम करके इतिहास रच दिया| हरनाज़ संधू की बात करें तो इनका जन्म 3 मार्च,2000 को चंडीगढ़ में हुआ था, और ये मिस यूनिवर्स का खिताब जीतने से पहले एक मॉडल के रूप में अपनी पहचान रखती थी|

बता दें, बीते 12 दिसम्बर की तारिख को इस मिस यूनिवर्स प्रतियोगिता के प्रीलिमिनरी स्टेज में पूरे विश्व की 75 से अधिक खूबसूरत और प्रतिभाशाली महिलाओं नें हिस्सा लिया था| इस मिस यूनिवर्स पेंडेंट को इस साल इजराइल में रखा गया था|इन सभी 75 महिलाओं में से सिर्फ 3 महिलाओं नें टॉप 3 में अपनी जगह बनाई थी और इसी टॉप 3 की लिस्ट में भारत की बेटी हरनाज़ संधू भी शामिल रहीं जिन्होंने मिस साउथ अफ्रीका और मिस पराग्वे का खिताब अपने नाम कर चुकी मॉडल्स को पीछे छोड़ते हुए मिस यूनिवर्स के खिताब को अपने नाम किया|

आपकी जानकारी के लिए बता दें, बीते साल 2000 के बाद पूरे 21 सालों बाद मिस यूनिवर्स का खिताब हमारे भारत के पास आया है| इस बार के मिस यूनिवर्स कार्यक्रम में बीते साल 2020 की मेक्सिको की पूर्व मिस यूनिवर्स रही एंड्रिया मेजा ने हरनाथ संधू की ताजपोशी की है| और इसके अलावा बताते चलें, इस बार मिस यूनिवर्स 2021 के कंटेस्टेंट को उर्वशी रौतेला ने जज किया था|

पूछा गया था यह सवाल

जैसा कि हम सभी को पता है, मिस यूनिवर्स का खिताब को जीतने के लिए ‘ब्यूटी विद ब्रेन’ का चयन किया जाता है और ऐसे में टॉप 3 में आई तीनों प्रतियोगिओं से एक सवाल पूछा गया था, और जिसका जवाब सबसे उपयुक्त और अद्भुत होता, उसे ही मिस यूनिवर्स के रूप में चयनित किया जाना था|इनसे सवाल किया गया था की आज के समय में दबाव का सामना कर रही उन युवा महिलाओं को वह क्या सलाह देना चाहेंगे जिससे कि वह उसका सामना कर सकें?

ये रहा मिस यूनिवर्स 2021 का जवाब

ऐसे में इस सवाल के जवाब में हरनाज चंदू ने अपने जवाब में कहा की आज के युवाओं का सबसे बड़ा दबाव उनका खुद पर भरोसा करना है| उन्हें यह बात माननी चाहिए कि वह अद्वितीय हैं और यही वह बात है जो आप को सबसे खूबसूरत बनाती है| आगे उन्होंने कहा कि बाहर निकल लिया और खुद के लिए बोलिए क्योंकि अपने जीवन के नेता आप ही हैं| उन्होंने कहा कि मैं आप पर विश्वास रखती हूं और इसीलिए आज मैं यहां पर खड़ी हूं| और अपने इस बेहतरीन जवाब से हरनाथ सधु ने मिस यूनिवर्स 2021 के खिताब को अपने नाम किया|

भारत को दो बार मिल चुकी है सफलता

जानकारी के लिए बता दें, हरनाज संधू से पहले साल 1994 में सुष्मिता सेन ने भारत के लिए मिस यूनिवर्स का खिताब को जीता था| और सुष्मिता सेन के बाद साल 2000 में लारा दत्ता ने मिस यूनिवर्स के इस ताज को अपने नाम किया था|  साथ ही बताते चलें, मिस यूनिवर्स का खिताब को जीतने के बाद सुष्मिता सेन और लारा दत्ता दोनों ने ही बॉलीवुड फिल्म इंडस्ट्री में भी कदम रखा था|