हंसना हम सबके सेहत के लिए बहुत ही फायदेमंद होता है  और इसीलिए हमे हंसने मुस्कुराने का कोई भी मौका नहीं छोड़ना चाहिए और जब भी हम खुश रहते है तो इससे हमारे स्वास्थ और हमारी मानसिक सेहत भी एकदम दुरुस्त रहती है और इसी बात को ध्यान में रखते हुए आज के इस पोस्ट में हम आपके  कुछ ऐसे मजेदार जोक्स लेकर आये हैं जिन्हें पढ़ने के बाद यकीनन आपकी हंसी रुक नहीं पाएगी. तो देर किस बात की है चलिए शुरू करते हैं हंसने हंसाने का ये खूबसूरत सिलसिला.

एक बार भूगोल की टीचर ने
बच्चों से पूछा – गंगा कहाँ से निकलती है और
कहाँ जाकर मिलती है..?
एक बच्चे ने खड़े होकर कहा :- मैडम गंगा घर से निकलती है
और स्कूल के पीछे जाकर कालू से मिलती है.

Teacher :- A B C सुनाओ…
संता :- A B C
Teacher :- और सुनाओ..
संता :- और सब बढियां, आप सुनाओ!

टीचर :- टिल्लू तुम बताओ, बड़े होकर क्या बनोगे ?
टिल्लू, शरमाते हुए : दूल्हा
टीचर :- अरे मेरा मतलब है, बड़े होकर क्या पाना चाहते हो ?
टिल्लू, शरमाते हुए : दुल्हन
टीचर :- उफ्फोह, मुझे बताओ, बड़े होकर ऐसा क्या करोगे जो तुमने अभी तक नहीं किया ?टिल्लू, शरमाते हुए : जी टीचर, शादी!

मास्टर :- कल स्कुल क्यूँ नहीं आये?
बबलू :- गल्फ्रेंड से मिलने गया था
मास्टर :- किस लिये ?
बबलू :- YES SIR
मास्टर :- मैंने पूछा किस लिये?
बबलू :- लिये सर बहुत लिये!!

मास्टरजी:- “दीवारों के भी कान होतें है”
ये मुहावरे के हिसाब से हमें किस चीज़ में सावधानी रखनी चाहियें ?
पिंटू:- सर.. मैं बताऊं ?
हमें दीवारों पे पेशाब नहीं करना चाहियें
वर्ना उनकें कान में पानी चला जायेगा !!शक की इंतहा तो देखो

चिंटू जंगल से जा रहा था…
अचानक सामने भालू आ गया
भालू देखकर चिंटू सांस रोककर जमीन पर लेट गया…
भालू – अभी मुझे भूख नहीं है, वरना सारी होशियारी निकाल देता…

रमेश- तुम्हें मेरे अंदर सबसे अच्छी बात क्या लगती है?
पिंकी- लोग समय के साथ बदल जाते हैं लेकिन तुम नहीं बदले,
रमेश- वह कैसे?
लड़की- जब मैं तुमसे मिली थी तब भी बेरोजगार थे
और आज भी बेरोजगार हो…

मास्टर जी – मुहावरे का अर्थ बताओ
‘सांप की दुम पर पैर रखना’
स्टूडेंट – पत्नी को मायके जाने से रोकना…
टीचर समझ नहीं पा रहे हैं कि इतनी गहरी जानकारी इसे कैसे हुई…

मास्टर जी – तुमने होमवर्क क्यों नहीं किया…?
पप्पू – मैं हॉस्टल में रहता हूं ना…!
मास्टर जी – तो…?
पप्पू – हॉस्टल में होमवर्क कैसे कर सकता हूं,
हॉस्टल वर्क देना चाहिए था ना…!फिर हुई पप्पू की जोरदार धुनाई…!

 

पति पत्नी सब्जी मंडी गए..
पत्नी- सुनिए जी, चार किलो मटर ले लूं?
पति- हां, ले लो
पत्नी- मैं लेने को नहीं पूछ रही.
तुम इतनी मटर छील पाओगे ना, ये पूछ रही हूं.

इंटरव्यूअर- मैं तुमसे सिर्फ एक ही सवाल पूछूंगा.
बताओ जिंदगी में क्या खोया है और क्या पाया है?
स्मार्ट लड़का- सर जिससे मिठाई बनती है वो खोया है
और जो चारपाई में लगा होता है वो पाया है.
इंटरव्यूअर बेहोश होते होते बचा..

एक पागल अपने हाथ में सिगरेट छुपाते हुए दूसरे पागल से पूछता है…
पहला पागल- बताओ मेरे हाथ में क्या है?
दूसरा पागल- रेलगाड़ी!
पहला पागल- तुझे कैसे पता चला?
दूसरा पागल- मैंने धुआं निकलता देख लिया था !!

मास्टर जी- बच्चों बताओ काल कितने प्रकार के होते हैं….?
छोटू- काल तीन प्रकार के होते हैं….!
मास्टर जी- शाबाश!…..
अब पप्पू तुम बताओ…. तीन प्रकार के काल कौन से होते हैं….?
पप्पू- जी…… डायल कॉल, रिसीव कॉल और मिस कॉल…..!!मास्टर जी पाठशाला छोड़कर गेहूं काटने चले गए…..!!!